Share this page on following platforms.

Home Gurus Mridul Krishan ji

Radha naam

Banke Bihari - Jagjit Singh - Krishn Bhajan | Krishna Janmashtami Songs

Hey Ram by Jagjit Singh

Mera Aapki Kripa Se Sab Kaam Ho Raha Hai by Vinod Agarwal [Krishna Bhajan]

Gopi Geet by Param Pujya Gurudev Malookpeethadhishwar Shri Rajendra Das Ji Maharaj

tum dhundo mujhe gopal bhajan jagjit singh saanwara

Mukut Sir Mor Ka Bhaiya Krishna Das [Full Song] I Ek Shaam Baanke Bihari Ka Naam

tum hamare the prabhu ji(govind bhargav)

Mere Giniyo Na Apradh !! Shri Radha Krishna Bhajan !! Shri Govind Bhargav Ji #Bhaktigeet

Contents of this list:

Banke Bihari - Jagjit Singh - Krishn Bhajan | Krishna Janmashtami Songs
Hey Ram by Jagjit Singh
Mera Aapki Kripa Se Sab Kaam Ho Raha Hai by Vinod Agarwal [Krishna Bhajan]
Gopi Geet by Param Pujya Gurudev Malookpeethadhishwar Shri Rajendra Das Ji Maharaj
Madhurashtakam by Mridul Krishna Shastri ji
tum dhundo mujhe gopal bhajan jagjit singh saanwara
Mukut Sir Mor Ka Bhaiya Krishna Das [Full Song] I Ek Shaam Baanke Bihari Ka Naam
tum hamare the prabhu ji(govind bhargav)
Mere Giniyo Na Apradh !! Shri Radha Krishna Bhajan !! Shri Govind Bhargav Ji #Bhaktigeet

Bhajan Lyrics View All

कैसे जीऊं मैं राधा रानी तेरे बिना
मेरा मन ही न लगे श्यामा तेरे बिना
एक कोर कृपा की करदो स्वामिनी श्री
दासी की झोली भर दो लाडली श्री राधे॥
बृज के नन्द लाला राधा के सांवरिया
सभी दुख: दूर हुए जब तेरा नाम लिया
लाडली अद्बुत नज़ारा तेरे बरसाने में
लाडली अब मन हमारा तेरे बरसाने में है।
जीवन खतम हुआ तो जीने का ढंग आया
जब शमा बुझ गयी तो महफ़िल में रंग आया
सावरे से मिलने का सत्संग ही बहाना है ।
सारे दुःख दूर हुए, दिल बना दीवाना है ।
मेरे जीवन की जुड़ गयी डोर, किशोरी तेरे
किशोरी तेरे चरणन में, महारानी तेरे
मेरा आपकी कृपा से,
सब काम हो रहा है
सब के संकट दूर करेगी, यह बरसाने वाली,
बजाओ राधा नाम की ताली ।
मेरी विनती यही है राधा रानी, कृपा
मुझे तेरा ही सहारा महारानी, चरणों से
राधा नाम की लगाई फुलवारी, के पत्ता
के पत्ता पत्ता श्याम बोलता, के पत्ता
तू कितनी अच्ची है, तू कितनी भोली है,
ओ माँ, ओ माँ, ओ माँ, ओ माँ ।
यशोमती मैया से बोले नंदलाला,
राधा क्यूँ गोरी, मैं क्यूँ काला
तेरे बगैर सांवरिया जिया नही जाये
तुम आके बांह पकड लो तो कोई बात बने‌॥
कोई कहे गोविंदा कोई गोपाला,
मैं तो कहूँ सांवरिया बांसुरी वाला ।
वृंदावन में हुकुम चले बरसाने वाली का,
कान्हा भी दीवाना है श्री श्यामा
किशोरी कुछ ऐसा इंतजाम हो जाए।
जुबा पे राधा राधा राधा नाम हो जाए॥
राधा ढूंढ रही किसी ने मेरा श्याम देखा
श्याम देखा घनश्याम देखा
इक तारा वाजदा जी हर दम गोविन्द
जग ताने देंदा ए, तै मैनु कोई फरक नहीं
तेरी मुरली की धुन सुनने मैं बरसाने से
मैं बरसाने से आयी हूँ, मैं वृषभानु की
कान्हा की दीवानी बन जाउंगी,
दीवानी बन जाउंगी मस्तानी बन जाउंगी,
कोई कहे गोविंदा, कोई गोपाला।
मैं तो कहुँ सांवरिया बाँसुरिया वाला॥
हम प्रेम नगर के बंजारिन है
जप ताप और साधन क्या जाने
एक दिन वो भोले भंडारी बन कर के ब्रिज
पारवती भी मना कर ना माने त्रिपुरारी,
लाली की सुनके मैं आयी
कीरत मैया दे दे बधाई
राधा कट दी है गलिआं दे मोड़ आज मेरे
श्याम ने आना घनश्याम ने आना
दिल लूटके ले गया नी सहेलियो मेरा
मैं तक्दी रह गयी नी सहेलियो लगदा
तू राधे राधे गा ,
तोहे मिल जाएं सांवरियामिल जाएं
हो मेरी लाडो का नाम श्री राधा
श्री राधा श्री राधा, श्री राधा श्री
सारी दुनियां है दीवानी, राधा रानी आप
कौन है, जिस पर नहीं है, मेहरबानी आप की