Share this page on following platforms.

Home Gurus Mridul Krishan ji

Mridulkant ji shastri,vrindavan

mohe bhaave bihari ji ko naam

mohe bhaave bihari ji ko naam

aao manmohana aao nandnandana by Mridul krishna Shastri ji [original]

Aaj Biraj mein Holi.mp4

mohe bhaave bihari ji ko naam

Kirtan with Shri Mridul Krishna Shastriji at Radha Madhav Dham

mohe bhaave bihari ji ko naam

Contents of this list:

mohe bhaave bihari ji ko naam
mohe bhaave bihari ji ko naam
Mujhe Shyam Sunder Ki Dulhan Bana Do.mp4
aao manmohana aao nandnandana by Mridul krishna Shastri ji [original]
TERA PAL PAL BEETA JAYE JAPLE OM NAMO SHIVAY SH MRIDUL KRISHAN SHASTRI JI 360p
♥ Mujhe charno se laga le ,Mere Shyam Murli wale ♥
Rasiya Ko Naar (Holi Bhajan) -Acharya Mridul Krishan Shastri
Aaj Biraj mein Holi.mp4
mohe bhaave bihari ji ko naam
Mujhe Tumne Data Bahut Kuch Diya Hai By Mridul Krishna Ji
Kirtan with Shri Mridul Krishna Shastriji at Radha Madhav Dham
♥ Mujhe charno se laga le ,Mere Shyam Murli wale ♥
mohe bhaave bihari ji ko naam
Badi Door nagri by mridul krishna shastri ji
Bankay bihari ki dekh chata

Bhajan Lyrics View All

लाडली अद्बुत नज़ारा तेरे बरसाने में
लाडली अब मन हमारा तेरे बरसाने में है।
तेरी मुरली की धुन सुनने मैं बरसाने से
मैं बरसाने से आयी हूँ, मैं वृषभानु की
ज़िंदगी मे हज़ारो का मेला जुड़ा
हंस जब जब उड़ा तब अकेला उड़ा
सावरे से मिलने का सत्संग ही बहाना है ।
सारे दुःख दूर हुए, दिल बना दीवाना है ।
कोई पकड़ के मेरा हाथ रे,
मोहे वृन्दावन पहुंच देओ ।
बहुत बड़ा दरबार तेरो बहुत बड़ा दरबार,
चाकर रखलो राधा रानी तेरा बहुत बड़ा
श्री राधा हमारी गोरी गोरी, के नवल
यो तो कालो नहीं है मतवारो, जगत उज्य
हो मेरी लाडो का नाम श्री राधा
श्री राधा श्री राधा, श्री राधा श्री
इतना तो करना स्वामी जब प्राण तन से
गोविन्द नाम लेकर, फिर प्राण तन से
हम प्रेम दीवानी हैं, वो प्रेम दीवाना।
ऐ उधो हमे ज्ञान की पोथी ना सुनाना॥
कहना कहना आन पड़ी मैं तेरे द्वार ।
मुझे चाकर समझ निहार ॥
दाता एक राम, भिखारी सारी दुनिया ।
राम एक देवता, पुजारी सारी दुनिया ॥
राधा नाम की लगाई फुलवारी, के पत्ता
के पत्ता पत्ता श्याम बोलता, के पत्ता
मन चल वृंदावन धाम, रटेंगे राधे राधे
मिलेंगे कुंज बिहारी, ओढ़ के कांबल
राधे तु कितनी प्यारी है ॥
तेरे संग में बांके बिहारी कृष्ण
मुझे चाहिए बस सहारा तुम्हारा,
के नैनों में गोविन्द नज़ारा तुम्हार
वृन्दावन के बांके बिहारी,
हमसे पर्दा करो ना मुरारी ।
ना मैं मीरा ना मैं राधा,
फिर भी श्याम को पाना है ।
तमन्ना यही है के उड के बरसाने आयुं मैं
आके बरसाने में तेरे दिल की हसरतो को
राधे मोरी बंसी कहा खो गयी,
कोई ना बताये और शाम हो गयी,
मीठे रस से भरी रे, राधा रानी लागे,
मने कारो कारो जमुनाजी रो पानी लागे
मुझे रास आ गया है,
तेरे दर पे सर झुकाना
वास देदो किशोरी जी बरसाना,
छोडो छोडो जी छोडो जी तरसाना ।
वृंदावन में हुकुम चले बरसाने वाली का,
कान्हा भी दीवाना है श्री श्यामा
ਮੇਰੇ ਕਰਮਾਂ ਵੱਲ ਨਾ ਵੇਖਿਓ ਜੀ,
ਕਰਮਾਂ ਤੋਂ ਸ਼ਾਰਮਾਈ ਹੋਈ ਆਂ
तीनो लोकन से न्यारी राधा रानी हमारी।
राधा रानी हमारी, राधा रानी हमारी॥
तेरे बगैर सांवरिया जिया नही जाये
तुम आके बांह पकड लो तो कोई बात बने‌॥
जय राधे राधे, राधे राधे
जय राधे राधे, राधे राधे
मुँह फेर जिधर देखु मुझे तू ही नज़र आये
हम छोड़के दर तेरा अब और किधर जाये
मेरी रसना से राधा राधा नाम निकले,
हर घडी हर पल, हर घडी हर पल।