Share this page on following platforms.
Download Bhagwad Gita 8.16 Download BG 8.16 as Image

⮪ BG 8.15 Bhagwad Gita Hindi Translation BG 8.17⮫

Bhagavad Gita Chapter 8 Verse 16

भगवद् गीता अध्याय 8 श्लोक 16

आब्रह्मभुवनाल्लोकाः पुनरावर्तिनोऽर्जुन।
मामुपेत्य तु कौन्तेय पुनर्जन्म न विद्यते।।8.16।।

हिंदी अनुवाद - स्वामी रामसुख दास जी ( भगवद् गीता 8.16)

।।8.16।।हे अर्जुन ब्रह्मलोकतक सभी लोक पुनरावर्ती हैं परन्तु हे कौन्तेय मुझे प्राप्त होनेपर पुनर्जन्म नहीं होता।

हिंदी अनुवाद - स्वामी तेजोमयानंद

।।8.16।। हे अर्जुन ब्रह्म लोक तक के सब लोग पुनरावर्ती स्वभाव वाले हैं। परन्तु हे कौन्तेय मुझे प्राप्त होने पर पुनर्जन्म नहीं होता।।