Share this page on following platforms.
Download Bhagwad Gita 2.38 Download BG 2.38 as Image

⮪ BG 2.37 Bhagwad Gita Hindi Translation BG 2.39⮫

Bhagavad Gita Chapter 2 Verse 38

भगवद् गीता अध्याय 2 श्लोक 38

सुखदुःखे समे कृत्वा लाभालाभौ जयाजयौ।
ततो युद्धाय युज्यस्व नैवं पापमवाप्स्यसि।।2.38।।

हिंदी अनुवाद - स्वामी रामसुख दास जी ( भगवद् गीता 2.38)

।।2.38।।जयपराजय लाभहानि और सुखदुःखको समान करके फिर युद्धमें लग जा। इस प्रकार युद्ध करनेसे तू पापको प्राप्त नहीं होगा।

हिंदी अनुवाद - स्वामी तेजोमयानंद

।।2.38।। सुखदुख? लाभहानि और जयपराजय को समान करके युद्ध के लिये तैयार हो जाओ इस प्रकार तुमको पाप नहीं होगा।।