Share this page on following platforms.
Download Bhagwad Gita 14.11 Download BG 14.11 as Image

⮪ BG 14.10 Bhagwad Gita Hindi Translation BG 14.12⮫

Bhagavad Gita Chapter 14 Verse 11

भगवद् गीता अध्याय 14 श्लोक 11

सर्वद्वारेषु देहेऽस्मिन्प्रकाश उपजायते।
ज्ञानं यदा तदा विद्याद्विवृद्धं सत्त्वमित्युत।।14.11।।

हिंदी अनुवाद - स्वामी रामसुख दास जी ( भगवद् गीता 14.11)

।।14.11।।जब इस मनुष्यशरीरमें सब द्वारों(इन्द्रियों और अन्तःकरण) में प्रकाश (स्वच्छता) और ज्ञान (विवेक) प्रकट हो जाता है? तब जानना चाहिये कि सत्त्वगुण बढ़ा हुआ है।

हिंदी अनुवाद - स्वामी तेजोमयानंद

।।14.11।। जब इस देह के द्वारों अर्थात् समस्त इन्द्रियों में ज्ञानरूप प्रकाश उत्पन्न होता है? तब सत्त्वगुण को प्रवृद्ध हुआ जानो।।