Share this page on following platforms.
Download Bhagwad Gita 10.38 Download BG 10.38 as Image

⮪ BG 10.37 Bhagwad Gita Hindi Translation BG 10.39⮫

Bhagavad Gita Chapter 10 Verse 38

भगवद् गीता अध्याय 10 श्लोक 38

दण्डो दमयतामस्मि नीतिरस्मि जिगीषताम्।
मौनं चैवास्मि गुह्यानां ज्ञानं ज्ञानवतामहम्।।10.38।।

हिंदी अनुवाद - स्वामी रामसुख दास जी ( भगवद् गीता 10.38)

।।10.38।।दमन करनेवालोंमें दण्डनीति और विजय चाहनेवालोंमें नीति मैं हूँ। गोपनीय भावोंमें मौन और ज्ञानवानोंमें ज्ञान मैं हूँ।

हिंदी अनुवाद - स्वामी तेजोमयानंद

।।10.38।। मैं दमन करने वालों का दण्ड हूँ और विजयेच्छुओं की नीति हूँ मैं गुह्यों में मौन हूँ और ज्ञानवानों का ज्ञान हूँ।।