Share this page on following platforms.
Download Bhagwad Gita 10.29 Download BG 10.29 as Image

⮪ BG 10.28 Bhagwad Gita Brahma Vaishnava Sampradaya BG 10.30⮫

Bhagavad Gita Chapter 10 Verse 29

भगवद् गीता अध्याय 10 श्लोक 29

अनन्तश्चास्मि नागानां वरुणो यादसामहम्।
पितृ़णामर्यमा चास्मि यमः संयमतामहम्।।10.29।।

हिंदी अनुवाद - स्वामी तेजोमयानंद

।।10.29।। मैं नागों में अनन्त (शेषनाग) हूँ और जल देवताओं में वरुण हूँ मैं पितरों में अर्यमा हँ और नियमन करने वालों में यम हूँ।।

Brahma Vaishnava Sampradaya - Commentary